HIV Full Form In Hindi- AIDS Kya Hai? – जाने HIV, AIDS के लक्षण और बचने के तरीके हिंदी में!

0

HIV Full Form In Hindi

क्या आप जानते हैं HIV Full Form क्या है? HIV Full Form In Hindi? आइए जानते हैं इस खतरनाक बीमारी का अर्थ, यह कैसे किया जाता है, HIV के कितने चरण होते हैं, इसका कारण और उपचार कैसे संभव है। यह एक गैर-इलाज योग्य बीमारी है।

आज की इस पोस्ट में, हम आपको AIDS Kaise Hota Hai बताने जा रहे हैं, अगर आपको भी AIDS है और आप इससे बचना चाहते हैं, तो आप सही जगह पर आए हैं। इसके साथ ही आपको यह भी पता चल जाएगा कि AIDS Ke Lakshan Kya Hai

HIV Kya Hota Hai भी आप आज इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे। हम आपको यह बिल्कुल सरल भाषा में समझाएँगे। आशा करते है की आपको हमारी सभी पोस्ट पसंद आ रही होगी। इसी तरह आप आगे भी हमारे ब्लॉग पर आने वाली प्रत्येक पोस्ट को पसंद करते रहे।

यह virus मानव प्रतिरक्षा प्रणाली को प्रभावित करता है और इन्फ्लूएंजा, खांसी, तपेदिक आदि रोगों के संपर्क में आने से इसे और भी कमजोर बना देता है। HIV विशिष्ट श्वेत रक्त कोशिकाओं को नष्ट कर देता है। यदि इन कोशिकाओं की एक बड़ी संख्या नष्ट हो जाती है, तो शरीर संक्रमण से नहीं लड़ सकता है। जैसे ही संक्रमण बढ़ता है, यह AIDS में बदल जाता है।

HIV Full Form In Hindi  मानवीय प्रतिरक्षी अपूर्णता विषाणु
HIV Full Form In English Human Immunodeficiency Virus

जरूर पढ़े: GST Full Form In Hindi-जीएसटी का फुल फॉर्म क्या है – GST Meaning पूरी जानकारी

HIV Kay Hai

HIV को Human Immunodeficiency Virus कहा जाता है, हिंदी में इसे Human Immunodeficiency Virus कहा जाता है। यह एक घातक वायरस है जो Acquired Immunodeficiency syndrome (AIDS) का कारण बनता है जो HIV संक्रमण का एक उन्नत चरण है।

HIV मुख्य रूप से असुरक्षित यौन संबंध, दूषित रक्त संक्रमण, hypodermic needles और गर्भावस्था के दौरान, बच्चे के जन्म या स्तनपान के दौरान मां से बच्चे में फैलता है। कुछ शारीरिक तरल पदार्थ, जैसे लार और आँसू, HIV संक्रमित नहीं करते हैं। रोकथाम के तरीकों में सुरक्षित सेक्स, सुई विनिमय कार्यक्रम, संक्रमित लोगों का उपचार शामिल है।

AIDS पहली बार संयुक्त राज्य अमेरिका में 1981 में देखा गया था। माना जाता है कि HIV infection पश्चिम मध्य अफ्रीका में गैर-मानव प्राइमेट्स में उत्पन्न हुआ था और मनुष्यों में स्थानांतरित किया गया था

How to diagnose HIV /  इसका इलाज कैसे करे 

मानव शरीर में इस बीमारी की उपस्थिति के लिए परीक्षण करने का कोई उचित तरीका नहीं है क्योंकि HIV बहुत छोटा है और रक्त से अलग नहीं किया जा सकता है। इस बीमारे के निदान के लिए दुनिया के विभिन्न हिस्सों में विभिन्न प्रक्रियाओं का उपयोग किया जाता है। इस बीमारी के निदान के लिए सबसे आम परीक्षण ELISA (Enzyme-linked Immunosorbent Assay) टेस्ट है।

Stages of HIV

HIV infection को तीन चरणों में विभाजित किया जाता है, जो इस प्रकार हैं: –

Acute HIV Infection

यह HIV संक्रमण का पहला चरण है। आम तौर पर, संक्रमण के तुरंत बाद इस बीमारी के लक्षण दिखाई नहीं देते हैं। इसलिए, जब लोग HIV से संक्रमित होते हैं, तो वे तुरंत जागरूक नहीं होते हैं। इसके शुरुआती लक्षणों में लगभग दो से चार सप्ताह का समय लगता है।

Chronic HIV Infection

यह संक्रमण का दूसरा चरण है। इस चरण में, वायरस शरीर में प्रतिकृति बनाना शुरू कर देता है, धीरे-धीरे प्रतिरक्षा प्रणाली को कमजोर करता है। आप बीमार दिखते या महसूस नहीं करते हैं, इसलिए ऐसी संभावना है कि आप इस बीमारी को दूसरों के साथ संक्रमित कर सकते हैं। इसलिए, HIV के लिए शुरुआती परीक्षण बहुत महत्वपूर्ण है, भले ही आप अच्छी तरह से महसूस कर रहे हों।

AIDS/Advanced Infection

यह इस संक्रमण का तीसरा और उन्नत चरण है। इस चरण में, आपका सीडी CD4 T-cell काउंट 200 से नीचे चला जाता है और आपकी प्रतिरक्षा बहुत कम हो जाती है, जिससे आप अवसरवादी संक्रमण के प्रति अधिक संवेदनशील हो जाते हैं।

जरूर पढ़े: MBA Full Form In Hindi-(एमबीए)MBA Meaning In Hindi

Common Causes of HIV / इस बीमारी के होने के कारण

इस बीमारी के संक्रमण के कुछ सामान्य कारण हैं: –

  • संक्रमित व्यक्ति के साथ असुरक्षित यौन संबंध बनाने से।
  • संक्रमित Blood transfusion के द्वारा |
  • Hypodermic needles का उपयोग करके।
  • मां से बच्चे तक (जन्म से), यह स्तनपान द्वारा फैल सकता है।
HIV Full Form In Hindi मानवीय प्रतिरक्षी अपूर्णता विषाणु

HIV Se Kaise Bache

HIV से बचने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। HIV Se Bachne Ke Tarike का खुलासा हो गया है।

  • आपको और आपके साथी की समय-समय पर जांच की जानी चाहिए। इससे दोनों को सुरक्षित रहने में मदद मिल सकती है।
  • एक ही साथी के साथ यौन संबंध बनाएं।
  • जब भी आपको रक्त देने की आवश्यकता होती है, तो देखें कि नई निष्फल सुइयों का उपयोग किया जाता है।

AIDS Kya Hai

यह एक प्रकार की गंभीर बीमारी है जो HIV Virus माध्यम से शरीर में प्रवेश करती है। HIV Virus इंसानों की प्रतिरोधक क्षमता को कम कर देता है। इसे एक घातक बीमारी के रूप में जाना जाता है। अगर किसी को यह बीमारी हो जाती है, तो उसकी मौत तय है। HIV Virus रक्त प्रतिरोधी पदार्थ में लिम्फ नोड्स पर हमला करता है।

यह एक प्रकार का संक्रामक रोग है जो HIV Virus के संक्रमण के कारण होता है। शरीर में पहुंचने के बाद, HIV Virus रक्त में प्रवेश करता है और सफेद रक्त कोशिकाओं में शामिल होकर डीएनए में प्रवेश करता है जहां यह सफेद रक्त कणों को विभाजित करता है और हमला करता है, जिसके बाद यह सफेद कणों की संख्या को कम करता है। कमी के साथ, शरीर रोगों से लड़ने के लिए प्रतिरक्षा को नष्ट कर देता है।

AIDS Se Kaise Bache

AIDS से बचाव के कई तरीके हैं। AIDS से बचाव के लिए आप निम्न सावधानियां रख सकते हैं। आइये जानते हैं AIDS Se Bachne Ke Upay।

  • जिन सुइयों का उपयोग किया गया है, उनका उपयोग असिंचित व्यक्तियों पर नहीं किया जाना चाहिए।
  • यदि आपको रक्त की आवश्यकता है, तो किसी अज्ञात व्यक्ति का रक्त न लें, HIV परीक्षण किया हुआ रक्त लें जो सुरक्षित है।
  • ध्यान रखें कि पीड़ित के साथ यौन संबंध न बनाएं।
  • आपको पीड़ित व्यक्ति का झूठा भोजन भी नहीं करना चाहिए। अगर इस तरह देखा जाए तो किसी को भी झूठा नहीं खाना चाहिए। क्योंकि हम नहीं जानते कि किसी व्यक्ति को कौन सी बीमारी है।
  • इससे बचने के लिए, किसी भी अनजान व्यक्ति के साथ असुरक्षित संबंध न बनाएं।
  • यदि आप नाई के पास जाते हैं या शेविंग के लिए जाते हैं, तो केवल एक नया ब्लेड का उपयोग करने के लिए कहें।
  • इन बातों को ध्यान में रखकर आप AIDS से बच सकते हैं, और सावधान रहना बहुत जरूरी है। ताकि आप AIDS से दूर रह सकें।

आज की इस पोस्ट में, आपने HIV Full Form In Hindi को जाना है, इसके अलावा, आपने यह भी जान लिया है कि How to diagnose HIV /  इसका इलाज कैसे करे  उम्मीद करता है कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी।

HIV AIDS Se Kaise Bache इस जानकारी के लिए आप हमारी इस पोस्ट की मदद लें। AIDS Kya Hai माई आप इस पोस्ट से अच्छी तरह से जानते होंगे। HIV Full Form In Hindi आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके बताएं।

आपको इस पोस्ट की जानकारी अपने दोस्तों को भी देनी चाहिए और इस पोस्ट को HIV Full Form In Hindi में सोशल मीडिया पर शेयर भी करना चाहिए। ताकि यह जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंच सके। हमारी पोस्ट हिंदी में क्या है? अगर आपको कोई समस्या है या कोई सवाल है तो आप कमेंट में अपना सवाल जरूर पूछें। हमारी टीम आपकी मदद जरूर करेगी।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here